3 खिलाड़ी जो पिछले साल एक भी मैच नहीं खेले लेकिन ‘इम्पैक्ट प्लेयर’ नियम के कारण अब मिलेगा लाभ

3 खिलाड़ी जो पिछले साल एक भी मैच नहीं खेले लेकिन ‘इम्पैक्ट प्लेयर’ नियम के कारण अब मिलेगा लाभ

आईपीएल 2023 नजदीक है, और अगले साल के आईपीएल सीजन में एक नया नियम होगा, जिसे ‘इम्पैक्ट प्लेयर’ के नाम से जाना जाएगा। बीसीसीआई ने इसे सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2022/23 में पेश किया था।

नियम ऐसा है कि प्रत्येक टीम पूर्व-निर्धारित अवधि के दौरान अपनी फाइनल इलेवन में से एक खिलाड़ी को सब्सट्यूट कर सकती हैं।

सब्सट्यूट खिलाड़ी न केवल एक फील्डर की भूमिका निभा सकता है बल्कि टीम के लिए बल्लेबाजी और गेंदबाजी भी कर सकता हैं।

एक तरह से यह कबड्डी या क्रिकेट का सब्सट्यूट है। कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी थे जो आईपीएल 2022 में बेंचों पर ही बैठे रहे लेकिन सब्सट्यूट खिलाड़ी नियम के कारण अब वे अधिक मैच खेलते हुए देखे जा सकते हैं।

फैंस को ध्यान देना चाहिए कि नियम कथित तौर पर केवल भारतीय खिलाड़ियों को ही प्लेइंग इलेवन में अन्य भारतीय खिलाड़ियों को बदलने की अनुमति देगा।

इसी चीज को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको उन 3 भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जिन्होंने आईपीएल 2022 में बेंचों को गर्म किया लेकिन 2023 में ‘इम्पैक्ट प्लेयर’ नियम के कारण खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं।

1. शाहबाज नदीम

शाहबाज नदीम भारत के सबसे अनुभवी स्पिन गेंदबाजों में से एक हैं। हालांकि, उन्हें आईपीएल 2022 में लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए खेलने का एक भी मौका नहीं मिला।

इंपैक्ट प्लेयर नियम नदीम को सब्सट्यूट के रूप में आने और अपनी टीम के लिए किफायती ओवर फेंकने की अनुमति देगा।

नदीम के आईपीएल करियर की बात की जाए तो उन्होंने 72 मैच खेले है और 48 बल्लेबाजों को आउट किया है। इस दौरान उन्होंने 7.56 के इकॉनमी रेट से रन खर्च किये है।

2. गुरकीरत सिंह मान

गुरकीरत सिंह मान एक मिडिल आर्डर के बल्लेबाज हैं जो अपनी बड़ी हिट से मैच का रुख बदल सकते हैं, लेकिन गुजरात टाइटन्स ने उन्हें आईपीएल 2022 में एक भी मैच खिलाया।

आईपीएल 2023 में अगर उनकी टीम बड़े लक्ष्य का पीछा कर रही है तो गुरकीरत की टीम उन्हें गेंदबाज के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल कर सकती हैं।

दाएं हाथ के बल्लेबाज गुरकीरत के आईपीएल करियर की बात की जाए तो उन्होंने 41 मैच खेले है और 121.09 के स्ट्राइक रेट से 511 रन अपने नाम किये है।

इस दौरान उनके बल्ले से 2 अर्धशतक देखने को मिले है। वहीं 6 पारियों में गेंदबाजी करते हुए उन्होंने 7.46 के इकॉनमी रेट की मदद से 5 विकेट अपने नाम किये है।

3. जयंत यादव

शाहबाज नदीम की तरह जयंत यादव बीच में किफायती ओवर फेंक सकते हैं। स्पिन के अनुकूल सतह पर लक्ष्य का बचाव करते समय यादव जैसा गेंदबाज मददगार साबित हो सकता हैं।

जयंत के आईपीएल करियर की बात करें तो उन्होंने आईपीएल में 19 मैच खेले है और 6.87 के इकॉनमी रेट की मदद से 8 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया है।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *