‘लोग बिस्तर में घुसकर उर्फी जावेद की तस्वीरें देख रहे हैं, मैं भी देखता हूं’- चेतन भगत ने युवाओं को दी नसीहत

‘लोग बिस्तर में घुसकर उर्फी जावेद की तस्वीरें देख रहे हैं, मैं भी देखता हूं’- चेतन भगत ने युवाओं को दी नसीहत

नई दिल्ली, जेएनएन। बिग बॉस ओटीटी की कंटेस्टेंट उर्फी जावेद को कौन नहीं जानता, जब भी बात सोशल मीडिया की आती है तो इन मोहतरमा का जिक्र भी आ ही जाता है। देश के पॉपुलर लेखक चेतन भगत ने भी उर्फी के नाम का उदाहरण देते हुए युवाओं से अपील की कि वो सस्ते डेटा के चक्कर में ना फंसकर किताबों को पढ़ना शुरू करें। उन्होंने कहा कि वर्ना आपको देश में क्या चल रहा ये पता नहीं होगा बल्कि उर्फी जावेद की सारी ड्रेसेस याद होंगी।

चेतन भगत ने किताबें पढ़ने की दी सलाह‘लोग उर्फी जावेद की तस्वीरें देखते हैं…’अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि उर्फी की गलती नहीं है, वो अपना करियर बना रही है। लोग बिस्तर में घुस कर उर्फी की तस्वीरें देख रहे हैं। आज मैं भी उर्फी की तस्वीरें देखकर आया हूं। आज उसने टॉप की जगह दो फोन पहने हैं। मीडिया में भी इसी पर स्टोरी बनती है। इसके बाद उन्होंने उल्लू ऐप को लेकर भी बात की।

शेयर किया अपना अनुभव: चेतन भगत ने कहा कि उल्लू का मतलब होता है कि रात को जागने वाला, तो ऐप रात में जागने वालों के लिए है। हमारे वक्त में एंटरटेनमेंट की कमी थी, इसलिए मैंने लिखने का फैसला किया। उम्र के जिस पड़ाव पर पढ़ाई के लिए जोर दिया जाता है उसे समय में हमारा इंटरेस्ट रोमांस, गर्लफ्रेंड में भी होता है।

युवाओं के लिए कही ये बात: लेकिन अच्छी गर्लफ्रेंड होने से अच्छी नौकरी नहीं मिलेगी। चेतन कहते हैं कि मेरा मकसद है कि मैं यूथ को बेस्ट डायरेक्शन में लाऊं। किताबें पढ़ना अच्छी बात है और हमें रीडिंग हैबिट डालनी चाहिए। ना कि सोशल मीडिया की लत लगनी चाहिए।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *