ज्यादा पैसों के लिए अपने देश का कॉन्ट्रैक्ट छोड़ रहे क्रिकेटर, चौंकाने वाला खुलासा

ज्यादा पैसों के लिए अपने देश का कॉन्ट्रैक्ट छोड़ रहे क्रिकेटर, चौंकाने वाला खुलासा

FICA ने अपनी एक रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा किया है. उसने अपनी रिपोर्ट में बताया गया है कि दुनियाभर के ज्यादातर क्रिकेटर अब अपने देश का कॉन्ट्रैक्ट छोड़ रहे हैं. अगर घरेलू लीग में खेलने के लिए अधिक राशि मिलती है तो 49 प्रतिशत खिलाड़ी केंद्रीय अनुबंध ठुकराने पर विचार कर सकते हैं.

FICA Report: फेडरेशन ऑफ इंटरनेशनल क्रिकेटर्स एसोसिएशन (FICA) ने अपनी एक रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा किया है. फिका ने बताया है कि वर्ल्ड क्रिकेट में एक बड़ा बदलाव आ रहा है. उसने अपनी रिपोर्ट में बताया गया है कि दुनियाभर के ज्यादातर क्रिकेटर अब अपने देश का कॉन्ट्रैक्ट छोड़ रहे हैं.

हालांकि फिका की रिपोर्ट में भारत को शामिल नहीं किया गया. बाकी टीमों के खिलाड़ी अब इस ओर आगे बढ़ रहे हैं. वो सभी वर्ल्ड में कहीं भी कोई भी लीग खेलने के लिए आजाद रहना चाहते हैं. ऐसे आजाद क्रिकेटर्स को फ्रीलांस एजेंट भी कहते हैं.

फिका की रिपोर्ट में भारत को क्यों नहीं किया शामिल?भारतीय खिलाड़ियों की संस्था फिका के दायरे में नहीं आती, इसलिए इस सर्वेश्रण में भारतीय क्रिकेटर शामिल नहीं हैं. रिपोर्ट के अनुसार, ‘अगर घरेलू लीग में खेलने के लिए अधिक राशि मिलती है तो 49 प्रतिशत खिलाड़ी केंद्रीय अनुबंध ठुकराने पर विचार कर सकते हैं.’

दिग्गजों के बीच ये बहस भी चल रही है कि 50 ओवर का वनडे क्रिकेट तेजी से अपना अस्तित्व खोता जा रहा है. रिपोर्ट में बताया गया है कि अब ऐसे क्रिकेटरों के प्रतिशत में भी गिरावट आई है जिन्हें लगता है कि वनडे वर्ल्ड कप अब भी इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) के कैलेंडर की सबसे महत्वपूर्ण प्रतियोगिता है.

मोहम्मद रिजवान ने 2021 में बनाया ये बड़ा रिकॉर्ड: रिपोर्ट के अनुसार, ’54 प्रतिशत को अब भी लगता है कि वनडे वर्ल्ड कप ICC की शीर्ष प्रतियोगिता है. हालांकि इस प्रतिशत में काफी गिरावट आया है. फिका ने जब 2018-19 में सर्वे किया था, तब यह प्रतिशत 86 था.’ रिपोर्ट के अनुसार आईसीसी रैंकिंग में टॉप-9 में शामिल टीमों ने 2021 में औसत 81.5 दिन इंटरनेशनल क्रिकेट खेला, जबकि 10वें से 20वें स्थान की टीम के लिए यह औसत 21.5 दिन रहा.

2021 में 485 इंटरनेशनल मुकाबले खेले गए, जो कोरोना के बीच 2020 में हुए 290 मुकाबलों की तुलना में 195 अधिक हैं. यह आंकड़ा हालांकि 2019 में दुनिया भर में हुए 522 मैच से कम है. पाकिस्तानी मोहम्मद रिजवान 2021 में 80 कैलेंडर दिन खेलकर सबसे अधिक दिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ी रहे. भारतीय क्रिकेटरों में ऋषभ पंत 75 दिन के साथ शीर्ष पर रहे. जो रूट 2021 में 78 दिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला.

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *