भारत ने दर्ज की एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे बड़ी जीत, श्रीलंका को रिकॉर्ड अंतर से हराया

भारत ने दर्ज की एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे बड़ी जीत, श्रीलंका को रिकॉर्ड अंतर से हराया

भारत और श्रीलंका के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज का आखिरी मैच ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्टेडियम, तिरुवनंतपुरम में खेला गया था। भारत ने यह मैच 317 रन के विशाल अंतर से जीत लिया।

इसी के साथ उन्होंने श्रीलंका का 3-0 से क्लीन स्वीप कर दिया। इस मैच में भारतीय टीम अपनी प्लेइंग इलेवन में दो बदलाव किये।

हार्दिक पांड्या, उमरान मलिक की जगह वाशिंगटन सुंदर और सूर्यकुमार यादव को खिलाया। वहीं श्रीलंका टीम ने भी अपनी प्लेइंग इलेवन में दो बदलाव किये।

उन्होंने धनंजय डी सिल्वा की जगह अशेन बंडारा को और दुनिथ वेलालागे की जगह जेफरी वांडरसे को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया। इस मैच में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया।

भारतीय टीम की तरफ से शुरुआत करने रोहित शर्मा और शुभमन गिल आये। दोनों ही बल्लेबाजों ने टीम को अच्छी शुरुआत दी। दोनों ने पहले विकेट के लिए 95 रन जोड़े।

इस साझेदारी को चामिका करुणारत्ने ने कप्तान रोहित को आउट करते हुए तोड़ा। रोहित ने 49 गेंद में 2 चौके और 3 छक्के की मदद से 42 रन की पारी खेली।

उनके आउट होने के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए विराट कोहली आये। उन्होंने और गिल ने अच्छी गति से पारी को आगे बढ़ाया। इस बीच गिल ने शतक और कोहली ने अर्धशतक लगाया।

दोनों बल्लेबाजों ने दूसरे विकेट के लिए 131(110) रन जोड़े। इस साझेदारी को कासुन रजिथा ने गिल को बोल्ड करते हुए तोड़ा। गिल ने 97 गेंद में 14 चौके और 2 छक्के की मदद से 116 रन की शतकीय पारी खेली।

उनके आउट हो जानें के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए श्रेयस अय्यर आये। इन दोनों ने बढ़िया खेल दिखाया। वहीं कोहली ने अपनी बेहतरीन फॉर्म जारी रखी और अपने करियर का 46वां शतक जड़ दिया।

उन्होंने श्रेयस के साथ तीसरे विकेट के लिए 108(71) रन जोड़े। इस साझेदारी को लाहिरू कुमारा ने श्रेयस को आउट करते हुए तोड़ा। श्रेयस ने 32 गेंद में 2 चौके और एक छक्के की मदद से 38 रन की पारी खेली।

उनके आउट होने के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए केएल राहुल आये। हालांकि वो ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक पाए और कुमारा की गेंद पर आउट हो गए। राहुल ने 6 गेंद में 7 रन बनाये।

राहुल के आउट होने के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए सूर्यकुमार यादव आये। 48 ओवर में भारत का स्कोर 4 विकेट खोकर 365 रन था। सूर्या ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक पाए और 4 गेंद में 4 रन बनाकर रजिथा की गेंद पर आउट हो गए।

उनके आउट होने के बाद क्रीज पर अक्षर पटेल आये। इस बीच कोहली ने 150 का आकंड़ा भी पार कर लिया। अंत में भारतीय टीम ने 50 ओवरों में 5 विकेट खोकर 390 का स्कोर खड़ा किया।

कोहली ने 110 गेंद में 13 चौके और 8 छक्के की मदद से 166 रन की नाबाद शतकीय पारी खेली। कोहली ने इससे पहले वनडे की किसी भी पारी में इतने छक्के नहीं लगाए थे।

इसके अलावा कोहली ने किसी भी देश के खिलाफ वनडे में सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। यह श्रीलंका के खिलाफ उनका 10वां शतक है।

इससे पहले ये रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर (9) के नाम था। इसके अलावा विराट ने सचिन तेंदुलकर (20) के घर पर सबसे अधिक वनडे शतकों से पीछे छोड़ दिया। कोहली का यह घर पर 21वां शतक था।

वहीं अक्षर 2 गेंद में 2 रन बनाकर नाबाद रहे। श्रीलंका की तरफ से सबसे ज्यादा 2-2 विकेट कुमार और रजिथा ने लिए। वहीं एक विकेट करुणारत्ने को मिला।

श्रीलंका की तरफ से पारी की शुरुआत करने अविष्का फर्नांडो और नुवानिडू फर्नांडो आये। हालांकि टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रहीं क्योंकि दूसरा ओवर करने आये मोहम्मद सिराज ने अविष्का फर्नांडो को आउट कर दिया।

उन्होंने 4 गेंद में एक रन बनाया। उनके आउट होने के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए कुसल मेंडिस आये। हालांकि वो भी ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक पाए और 7 गेंद में एक चौके की मदद से 4 रन बनाकर आउट हो गए।

उनके आउट होने के बाद क्रीज पर चरित असलंका आये। हालांकि वो भी ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक पाए और 4 गेंद में एक रन बनाकर मोहम्मद शमी की गेंद पर आउट हो गए।

असलंका के आउट होने के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए कप्तान दासुन शनाका आये। हालांकि थोड़ी देर बाद युवा सलामी बल्लेबाज नुवानिडू को सिराज ने आउट कर दिया।

नुवानिडू ने 27 गेंद में 4 चौको की मदद से 16 रन बनाये। उनके आउट होने के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए वानिन्दु हसरंगा आये। वो भी ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक पाए और 4 गेंद में एक रन बनाकर सिराज की गेंद पर आउट हो गए।

हसरंगा के आउट होने के बाद क्रीज पर करुणारत्ने आये। हालांकि वो भी ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक पाए और मोहम्मद सिराज ने उन्हें बड़ी ही चलाकी से थ्रो करते हुए रन आउट कर दिया।

करुणारत्ने ने 6 गेंद में एक रन बनाया। उनके आउट होने के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए दुनिथ वेलालागे आये। वो जेफरी वांडरसे के सब्सट्यूट के रूप में आये।

जेफरी वांडरसे और अशेन बंडारा फील्डिंग करते समय आपस में टकरा गए थे और वो चोटिल हो गए थे। वहीं थोड़ी देर बाद स्पिनर कुलदीप यादव ने कप्तान शनाका को आउट कर दिया।

शनाका ने 26 गेंद में 2 चौको की मदद से 11 रन बनाये। इसी के साथ ड्रिंक्स ब्रेक हो गया। ड्रिंक्स ब्रेक के समय श्रीलंका का स्कोर 15 ओवर में 7 विकेट खोकर 50 रन था।

श्रीलंकाई कप्तान के आउट हो जानें के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए रजिथा आये। वहीं कुछ ही देर बाद शमी ने वेलालागे को 3(13) रन के निजी स्कोर पर आउट कर दिया।

उनके आउट होने के बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने के लिए कुमारा आये। वहीं थोड़ी देर बाद कुलदीप ने कुमारा को आउट कर दिया। कुमारा ने 19 गेंद में 2 चौको की मदद से 9 रन बनाये।

वहीं अशेन बंडारा बल्लेबाजी करने नहीं आ पाए। इसी के साथ श्रीलंका की टीम 22 ओवर में 73 रन पर सिमट गयी और 317 रन के विशाल अंतर से मैच हार गयी। रजिथा 19 गेंद में 2 चौको की मदद से 13 रन बनाकर नाबाद रहे।

यह रनों के लिहाज से वनडे क्रिकेट की अब तक की सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले ये रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के नाम था जिन्होंने 2018 में आयरलैंड को 290 रन के विशाल अंतर से हराया था। इस मैच में कीवी टीम न 403 रन का लक्ष्य दिया था।

दूसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया शामिल है उन्होंने अफगानिस्तान को 2015 में अफगानिस्तान को 275 रन से हराया। इस मैच में अफगानिस्तान को 418 रन का लक्ष्य मिला था।

वहीं तीसरी सबसे बड़ी वनडे जीत दक्षिण अफ्रीका के नाम है। उन्होंने जिम्बाब्वे को 2010 में 272 रन से मात दी थी। वहीं इस विशाल जीत से पहले भारत ने विशाल अंतर से बरमूडा को हराया था।

उन्होंने 2007 के वर्ल्ड कप में इस टीम को 257 रन से मात दी थी। इस मैच में भारत ने बरमूडा को 414 रन का लक्ष्य दिया था।

तीसरे और आखिरी वनडे मैच में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा 4 विकेट मोहम्मद सिराज ने लिए। वहीं 2-2 विकेट मोहम्मद शमी और कुलदीप यादव ने लिए

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *