“भारतीय चयनकर्ताओं ने उनके पांच साल खराब किए” Suryakumar Yadav पर पाकिस्तानी क्रिकेटर ने दिया बड़ा बयान, बताया भारतीय चयनकर्ताओं ने की उनके साथ नाइंसाफी

“भारतीय चयनकर्ताओं ने उनके पांच साल खराब किए” Suryakumar Yadav पर पाकिस्तानी क्रिकेटर ने दिया बड़ा बयान, बताया भारतीय चयनकर्ताओं ने की उनके साथ नाइंसाफी

टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) टी 20 वर्ल्ड कप से ही अपनी शानदार लय में नजर आ रहे है। वह हर मुकाबले में अपनी पारी की बदौलत टीम इंडिया को जीत दिला रहे हैं। बीते रविवार न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे टी20 मुकाबले के दौरान भी ऐसा ही कुछ देखने को मिला। बता दें कि टी20 इंटरनेशनल फॉर्मेट सूर्यकुमार ने इस पूरे साल अदभुत प्रदर्शन किया है।

बहरहाल, कुछ लोगों का मानना है कि सूर्या को अपनी कला दिखाने का मौका बहुत देर से मिला है। पूर्व पाकिस्तानी लेग स्पिनर दानिश कनेरिया भी इस बात से सहमत है। उन्होंने हाल ही में उन्होंने बयान दिया है कि भारतीय चयनकर्ताओं ने सूर्यकुमार (Suryakumar Yadav) के पांच साल खराब किए हैं।

Suryakumar Yadav के करियर को लेकर बोले पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर: दरअसल सूर्या (Suryakumar Yadav) के प्रदर्शन को देखकर इस समय हर किसी की जुबान पर उनका ही नाम हैं। वहीं। पूर्व पाकिस्तानी लेग स्पिनर दानिश कनेरिया का कहना है कि भारतीय सेलेक्टर्स ने उनके करियर के पांच साल खराब किए है। उन्होंने इस बार में बात करते हुए आगे कहा कि,

“भारतीय चयनकर्ताओं ने सूर्यकुमार यादव के पांच साल खराब किए। उन्होंने लगातार बड़े लेवल पर दमदार प्रदर्शन करते हुए खोए हुए समय को बराबर करने की कोशिश की है और अपना दमखम दिखाया है। हम जहां कहीं भी देखते हैं हर एक्सपर्ट सूर्यकुमार यादव के बारे में ही बात कर रहा है।”

सूर्या के करियर के खराब हुए कई साल: बता दें कि 2020 इंडियन प्रीमियर लीग में सूर्यकुमार (Suryakumar Yadav) चोटिल होने की वजह से महज आठ मैच ही खेल पाए थे। लेकिन उसके बावजूद भी उन्होंने 300 से अधिक रन बना दिए थे। हालांकि उसके बाद भी उन्हें भारतीय टीम में जगह नहीं मिली थी। आईपीएल के तुंरत बाद ऑस्ट्रेलिया का दौरान था और उस वक्त भी सूर्या को टीम में जगह नहीं मिली थी। वहीं, इस बारे में निराशा जाहिर करते हुए सूर्यकुमार ने बयान दिया था कि उन्हें आदत हो चुकी है। उन्होंने इस बारे में बात करते हुए आगे बताया कि,

“हर बार जब भारतीय टीम घोषित होती है तो उनके पिता हर पेपर और वेबसाइट पर मेरा नाम खोजते हैं, लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगती है।”

गौरतलब है कि इस बार भारतीय टीम में जगह मिलने के बाद सूर्या ने अपने बल्ले का जादू हर किसी को दिखा दिया हैं। उनके प्रदर्शन की बदौलत ही टीम में उनकी जगह अपने आप पक्की हो गई हैं।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *