‘अगर वर्ल्ड कप जीतना है तो IPL मत खेलो’; रोहित के बचपन के कोच ने ‘हिटमैन एंड कंपनी’ को दी खास सलाह

‘अगर वर्ल्ड कप जीतना है तो IPL मत खेलो’; रोहित के बचपन के कोच ने ‘हिटमैन एंड कंपनी’ को दी खास सलाह

Rohit’s childhood coach: रोहित के बचपन के कोच ने टीम से वर्कलोड मैनेजमेंट पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया है. भारतीय टीम आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2022 के सेमीफाइनल में हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई. टीम इंडिया पिछले 9 साल से कोई भी आईसीसी खिताब नहीं जीत पाई है. भारत ने अपना पिछला आईसीसी खिताब 2013 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के रूप में जीता था.

भारतीय टीम को अब अपना अगला वर्ल्ड कप 2023 में अपनी मेजबानी में 50 ओवरों के क्रिकेट में खेलना है. टीम इंडिया को अगर अपने आईसीसी खिताबी सूखे को समाप्त करना है तो उसे क्या करना चाहिए? इसे लेकर भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा के बचपन के कोच दिनेश लाड (Dinesh Lad) ने अपनी राय दी है.

रोहित के बचपन के कोच ने टीम से वर्कलोड मैनेजमेंट पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया है. साथ ही उन्होंने कप्तान के साथ-साथ भारतीय टीम को भी एक कड़ा संदेश दिया है. दिनेश लाड का मानना ​​है कि भारतीय टीम को काम के बोझ को कम करने के लिए अंतरराष्ट्रीय मैचों को मिस करना बंद कर देना चाहिए.

स्पोर्ट्सकीड़ा से बात करते हुए मुंबई के कोच ने कहा, “मुझे लगता है कि पिछले सात-आठ महीनों में हमारी एक स्थिर टीम नहीं रही हैं. अगर हम वर्ल्ड कप की तैयारी कर रहे हैं तो एक स्थापित टीम होनी चाहिए. पिछले सात महीनों में कोई पारी का आगाज करने आ रहा है, तो कोई गेंदबाजी करने आ रहा है, कोई स्थिरता ही नहीं है.”

उन्होंने आगे कहा, “मुझे ऐसा नहीं लगता (वर्कलोड का कारण देने पर). दुनिया में हर कोई खेल रहा है क्योंकि वे पेशेवर हैं, आप कह सकते हैं कि काम का बोझ नहीं है. वे आईपीएल में क्यों खेल रहे हैं? वर्ल्ड कप जीतना है तो आईपीएल मत खेलो. पेशेवर के रूप में उन्हें हर मैच (अंतरराष्ट्रीय स्तर पर) खेलना चाहिए क्योंकि हमें उससे कुछ मिल रहा है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से कोई समझौता नहीं होना चाहिए.”

भारतीय टीम आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2022 के सेमीफाइनल में हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई. टीम इंडिया पिछले 9 साल से कोई भी आईसीसी खिताब नहीं जीत पाई है. भारत ने अपना पिछला आईसीसी खिताब 2013 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के रूप में जीता था.

भारतीय टीम को अब अपना अगला वर्ल्ड कप 2023 में अपनी मेजबानी में 50 ओवरों के क्रिकेट में खेलना है. टीम इंडिया को अगर अपने आईसीसी खिताबी सूखे को समाप्त करना है तो उसे क्या करना चाहिए? इसे लेकर भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा के बचपन के कोच दिनेश लाड (Dinesh Lad) ने अपनी राय दी है.

रोहित के बचपन के कोच ने टीम से वर्कलोड मैनेजमेंट पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया है. साथ ही उन्होंने कप्तान के साथ-साथ भारतीय टीम को भी एक कड़ा संदेश दिया है. दिनेश लाड का मानना ​​है कि भारतीय टीम को काम के बोझ को कम करने के लिए अंतरराष्ट्रीय मैचों को मिस करना बंद कर देना चाहिए.

स्पोर्ट्सकीड़ा से बात करते हुए मुंबई के कोच ने कहा, “मुझे लगता है कि पिछले सात-आठ महीनों में हमारी एक स्थिर टीम नहीं रही हैं. अगर हम वर्ल्ड कप की तैयारी कर रहे हैं तो एक स्थापित टीम होनी चाहिए. पिछले सात महीनों में कोई पारी का आगाज करने आ रहा है, तो कोई गेंदबाजी करने आ रहा है, कोई स्थिरता ही नहीं है.”

उन्होंने आगे कहा, “मुझे ऐसा नहीं लगता (वर्कलोड का कारण देने पर). दुनिया में हर कोई खेल रहा है क्योंकि वे पेशेवर हैं, आप कह सकते हैं कि काम का बोझ नहीं है. वे आईपीएल में क्यों खेल रहे हैं? वर्ल्ड कप जीतना है तो आईपीएल मत खेलो. पेशेवर के रूप में उन्हें हर मैच (अंतरराष्ट्रीय स्तर पर) खेलना चाहिए क्योंकि हमें उससे कुछ मिल रहा है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से कोई समझौता नहीं होना चाहिए.”

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *