सूर्यकुमार यादव ने पहली बार बताया अपने आदर्श का नाम, इन्हें दिया अपनी सफलता का श्रेय

सूर्यकुमार यादव ने पहली बार बताया अपने आदर्श का नाम, इन्हें दिया अपनी सफलता का श्रेय

इस समय सूर्यकुमार यादव भारत के टी20 क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं। उन्होंने इस साल भारत के लिए टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाए है। वह इस समय आईसीसी टी20 रैकिंग में भी नंबर एक स्थान पर काबिज है। टी20 क्रिकेट में धमाल मचाने के बाद सूर्यकुमार यादव अब सफेद जर्सी में भारतीय टीम के लिए खेलना चाहते हैं। जिसका जिक्र उन्होंने हाल ही में न्यूज एजेंसी को दिए एक इंटरव्यू में किया।

नंबर 1 बल्लेबाज बनना किसी सपने से कम नहीं: जहां सूर्यकुमार यादव ने टी20 क्रिकेट में दुनिया का नंबर एक बल्लेबाज बनने पर कहा,

‘यह अब भी सपने जैसा लगता है। अगर साल भर पहले किसी ने मुझे टी20 क्रिकेट का नंबर एक बल्लेबाज कहा होता तो मुझे नहीं पता कि मैं कैसे प्रतिक्रिया करता। जब मैंने इस प्रारूप में खेलना शुरू किया तो मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहता था और इसके लिए मैंने कड़ी मेहनत की थी।’

उन्होंने टेस्ट क्रिकेट खेलने को लेकर कहा कि: “मैंने लाल गेंद से आयु वर्ग के राष्ट्रीय स्तर पर खेलना शुरू किया, इसलिए इसका उत्तर इसी में निहित है। पांच दिवसीय मैचों में आपके सामने पेचीदा लेकिन रोमांचक परिस्थितियां होती हैं और आप चुनौती का सामना करना चाहते हैं। हां, यदि मुझे मौका मिलता है तो मैं तैयार हूं।”

360 डिग्री शाॅट के पीछे की बताई कहानी: सूर्यकुमार यादव को भारत का एबी डिविलियर्स कहा जाता है। जो 360° में छक्के लगाने की क्षमता रखते हैं। सूर्यकुमार यादव ने उनके 360° खेल के पीछे की कहानी को लेकर कहा,

”यह दिलचस्प कहानी है। मेरे स्कूल और कॉलेज के दिनों में मैंने रबड़ की गेंद से काफी क्रिकेट खेली। सीमेंट की कड़ी पिचों पर और बारिश के दिनों में 15 गज की दूरी से की गई गेंद तेजी से आती थी तथा यदि लेग साइड की बाउंड्री 95 गज होती थी तो ऑफ साइड की 25 से 30 गज ही होती थी। इसलिए ऑफ साइड की बाउंड्री बचाने के लिए अधिकतर गेंदबाज मेरे शरीर को निशाना बनाकर गेंदबाजी करते थे। ऐसे में मैंने कलाइयों का इस्तेमाल करना, पुल करना और अपर कट लगाना सीखा। मैंने नेट पर कभी इसका अभ्यास नहीं किया।”

सूर्यकुमार यादव ने अपने इंटरव्यू में भारत के दिग्गज खिलाड़ी रोहित शर्मा और विराट कोहली की काफी प्रशंसा की। उन्होंने कहा,

‘मैं वास्तव में बेहद भाग्यशाली हूं जो विराट कोहली और रोहित शर्मा के साथ खेल रहा हूं। वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के दिग्गज सितारे हैं। उन्होंने जो कुछ हासिल किया है। मैं नहीं जानता कि कभी मैं उसे हासिल कर पाऊंगा या नहीं। हाल में मैंने विराट भाई के साथ कुछ अच्छी साझेदारियां निभाई और मैंने उनके साथ बल्लेबाजी करने का आनंद लिया।’

सूर्यकुमार यादव ने इंटरव्यू में अपने परिवार और पत्नी के उनके करियर में योगदान का भी जिक्र किया। उन्होंने बताया कि उन सभी के सपोर्ट के कारण ही वें यहां तक पहुंच पाए हैं। उन्होंने कहा

“मुंबई इंडियंस और मेरी पत्नी देविशा मेरे जिंदगी के 2 स्तंभ हैं।”

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *