‘हमने बेमानी से द्विपक्षीय सीरीज जीतने के अलावा किया क्या….’ इस पूर्व क्रिकेटर ने टीम इंडिया को बताया बेईमान, कहा चीटिंग से जीतती हैं मैच

‘हमने बेमानी से द्विपक्षीय सीरीज जीतने के अलावा किया क्या….’ इस पूर्व क्रिकेटर ने टीम इंडिया को बताया बेईमान, कहा चीटिंग से जीतती हैं मैच

बांग्लादेश के साथ हुए दूसरे एकदिवसीय मैच मे हार और सीरीज के गवाने के कारण टीम इंडिया के खिलाड़ियों के लिए गुस्से के पारे को काफी बढ़ा दिया है। प्रशंसकों से लेकर पूर्व खिलाड़ी सब इस हार से बिफरे हुए है। इस मैच मे मिले हार को भारत के कई पूर्व खिलाड़ी ने बयान दिया है जो पिछले दिनों से सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है।

टीम इंडिया के लाचार प्रदर्शन पर बिफरे Venkatesh Prasad टीम इंडिया के हार ने कई पूर्व खिलाड़ियों के साथ साथ भारत के पूर्व गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद (Venkatesh Prasad) को भी बोलने पर मजबूर कर दिया है। 7 दिसम्बर को हुए भारत बनाम बांग्लादेश के साथ हुए मैच मे बांग्लादेश ने भारत को 5 रनों से पटखनी दिया। इस मैच मे सभी खिलाड़ियो के प्रदर्शन ने गुस्से के पारे आसमान पर पहुचा दिया है।

वेंकटेश प्रसाद (Venkatesh Prasad) ने एक इंटरव्यू मे बोला कि, “दुनिया भर में भारत इतने क्षेत्रों में नई पहल कर रहा है, लेकिन क्रिकेट के सीमित ओवरों मे हमारी रणनीति वहीं बरसों पुरानी है। इंग्लैंड ने 2015 विश्व कप में पहले दौर से बाहर होने के बाद कठिन फैसले लिए और आज इतनी शानदार टीम बन गई है। भारत को भी कड़े फैसले लेने होंगे और सोच मे बदलाव करनी होगी।”

वेंकटेश (Venkatesh Prasad) ने आगे कहा कि “आईपीएल शुरू होने के बाद से हम एक भी टी20 विश्व कप नहीं जीत सके और पिछले पांच साल में बेमानी द्विपक्षीय सीरीज जीतने के सिवाय वनडे में भी कुछ खास नहीं किया है। टीम इंडिया ने लंबे समय से अपनी गलतियों से सबक सीखा है और वनडे क्रिकेट में कुछ खास नहीं कर पा रहे। टीम इंडिया मे बदलाव की खासी जरूरत है।”

कौन हैं Venkatesh Prasad? वेंकटेश प्रसाद (Venkatesh Prasad) के क्रिकेट के सफ़र के बारे मे बात किया जाए तो इन्होंने अपना डेव्यू ओडीआई मे साल 1994 मे न्यूज़ीलैंड के खिलाफ किया था जिसमे इन्होंने 9 ओवर गेंदबाजी की जिसमे 5.44 की इकॉनमी से 49 रन दिए हालांकि इनके हाथ एक भी विकेट नहीं लगी।

फिर वेंकटेश प्रसाद (Venkatesh Prasad) मे टेस्ट मे अपना डेव्यू साल 1996 मे इंग्लैंड के खिलाफ किया और 28 ओवर मे 2.53 की इकॉनमी से 71 रन दिए और 4 विकेट हासिल की। अब देखना दिलचस्प होगा की इतने लताड़ लगाने के वावजूद टीम इंडिया के प्रदर्शन मे कोई इम्प्रूव्मेंट आता है कि नहीं।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *