“विराट कोहली के अलावा कोई उस तरह का शॉट नहीं मार सकता है” – हारिस रऊफ ने अब दी बड़ी प्रतिक्रिया

“विराट कोहली के अलावा कोई उस तरह का शॉट नहीं मार सकता है” – हारिस रऊफ ने अब दी बड़ी प्रतिक्रिया

टी20 वर्ल्ड कप 2022 में 23 अक्टूबर को स्टार बल्लेबाज विराट कोहली ने पाकिस्तान के गेंदबाजों पर कहर बरपाते हुए भारत को पहले मैच में 4 विकेट से यादगार जीत दिलाई। मेलबर्न में खेले गए इस मुकाबले में कोहली ने 53 गेंदों में 6 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 82* रन बनाकर 160 रन के लक्ष्य का पीछा करने में सबसे बड़ा योगदान दिया। इस दौरान उन्होंने हारिस रऊफ द्वारा फेंके जा रहे 19वें ओवर की अंतिम 2 गेंदों पर लगातार 2 छक्के जड़ दिए। इस पर पाकिस्तान के तेज गेंदबाज ने खुलकर अपनी बात कही है।

विराट कोहली के अपने शब्दों में, पाकिस्तान के खिलाफ खेली गई यह पारी उनकी टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठपारी थी। इस फॉर्मेट में कोहली का यह साल काफी निराशाजनक रहा था और यहां तक ​​कि उन्होंने अगस्त में भारत के इंग्लैंड दौरे के बाद एक महीने के लिए खेल से ब्रेक भी ले लिया था। इसके बाद उन्होंने एशिया कप 2022 में वापसी की और अपने बल्ले का जोर दिखाना शुरू किया।

T20 वर्ल्ड कप 2022 में पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हारिस रऊफ द्वारा फेंके जा रहे 19वें ओवर की पांचवीं गेंद पर विराट कोहली ने एक ऐसा छक्का लगाया, जिसे देखकर स्टेडियम में बैठे फैंस सहित गेंदबाज भी दंग रह गया। कोहली ने सिर के पास से जा रही लेंथ डिलीवरी पर पीछे हटकर गेंदबाज के सिर के ऊपर से सामने की ओर छक्का लगाया। लगभग 1 महीने बाद हारिस रऊफ ने इस अविश्वसनीय छक्के पर खुलकर बात की है।

रऊफ ने पाकिस्तान समाचार आउटलेट क्रिकविक से कहा, “जिस तरह से वह [कोहली] वर्ल्ड कप में खेले, वह उनका क्लास है, हम सभी जानते हैं कि वह किस प्रकार के शॉट खेलते हैं। और जिस तरह से उन्होंने उन छक्कों को मारा, मुझे नहीं लगता कि कोई अन्य खिलाड़ी मेरी गेंदबाजी पर इस तरह का शॉट मार सकता है।”

उन्होंने आगे कहा, “अगर दिनेश कार्तिक और हार्दिक पांड्या उन छक्कों को मारते, तो मुझे दुख होता, लेकिन वह कोहली के बल्ले से निकले और वह पूरी तरह से एक अलग क्लास वाले हैं।”

बता दें कि, उस मैच में भारत को जीत के लिए 12 गेंदों पर 31 रनों की आवश्यकता थी। पहली 4 गेंदों में हारिस रऊफ ने केवल 3 रन देकर इस ओवर की शानदार शुरुआत की। स्कोरबोर्ड के बढ़ते दबाव के साथ कोहली ने तेज गेंदबाज की गेंद पर बड़ा शॉट लगाने का फैसला किया और उन्होंने अगली 2 गेंदों पर लगातार 2 छक्के मारे।

हारिस रऊफ ने इस पर बात करते हुए कहा, “देखिए, भारत को आखिरी 12 गेंदों में 31 रन चाहिए थे। मैंने 4 गेंदों पर केवल 3 रन दिए थे। मुझे पता था कि नवाज आखिरी ओवर कर रहे हैं, वह एक स्पिनर हैं और मैंने उनके लिए कम से कम 4 बड़ी बाउंड्री और कम से कम 20 रन छोड़ने की कोशिश की थी।”

“और चूंकि 8 गेंदों पर 28 रन की आवश्यकता थी, मैंने 3 धीमी गेंदें फेंकी थीं और वह धोखा खा गए थे। मैंने 4 में से केवल एक ही तेज गेंद फेंकी थी। तो मेरा विचार बैक ऑफ लेंथ डिलीवरी फेंकने का था, क्योंकि स्क्वायर की तरफ बाउंड्री बड़ी थी। मुझे इस बात का अंदाजा नहीं था कि वह मुझे इतनी दूर डाउन द ग्राउंड मार सकते हैं। इसलिए जब उन्होंने मुझे मारा, तो वह उसकी क्लास थी। मेरी योजना और क्रियान्वयन ठीक थी, लेकिन वह शॉट क्लास वाला था।”

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *