‘प्लेयर ऑफ द मैच’ जीतने के बाद विराट कोहली के बदले तेवर, कोच-कप्तान नहीं बल्कि इन्हें दिया अपने फाॅर्म का श्रेय

‘प्लेयर ऑफ द मैच’ जीतने के बाद विराट कोहली के बदले तेवर, कोच-कप्तान नहीं बल्कि इन्हें दिया अपने फाॅर्म का श्रेय

भारत और श्रीलंका (Team India vs vs Sri Lanka) के बीच खेली जा रही तीन वनडे मुकाबलों की सीरीज के पहले मैच में मेजबान टीम ने श्रीलंका को 67 रनों से पराजित किया है। गुवाहाटी में आयोजित इस मुकाबले में टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए स्कोर बोर्ड पर 373 रन लगाए थे।

भारत के लिए इस मुकाबले में विराट कोहली (Virat Kohli) ने धमाकेदार सेंचुरी लगाई है। उनके बल्ले से 113 रनों की बेहतरीन पारी निकली। या उनके क्रिकेट कैरियर का 73 वां और वनडे फॉर्मेट का 45 वां शतक है। इस मुकाबले में उन्होंने भारत को जीत दिलाने के बाद बड़ा बयान दिया है।

मेरी तैयारी और इरादे में नहीं रहता है फर्क: भारत के लिए मुकाबले में शानदार शतकीय की पारी खेलने वाले विराट कोहली Virat Kohli ने पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान कहा,

“मुझे नहीं लगता कि कुछ अलग था। मेरी तैयारी और इरादा हमेशा एक जैसा रहता है। मुझे लगा कि मैं गेंद को अच्छे से हिट कर रहा हूं। यह उस टेम्पलेट के करीब था जिसके साथ मैं खेलता हूं, मुझे समझ में आया कि हमें अतिरिक्त 25-30 रनों की जरूरत है।

मैंने दूसरे हाफ में परिस्थितियों को समझने की कोशिश की। बोर्ड पर हमारे लिए सहज कुल हासिल करने की कोशिश की। एक चीज जो मैंने सीखी वह थी हताशा आपको कहीं नहीं ले जाती।”

हमेशा खेल का लुत्फ उठाता हूं: उन्होंने आगे कहा, “आपको चीजों को जटिल बनाने की जरूरत नहीं है। तुम वहां जाओ और बिना किसी डर के खेलो, मैं चीजों को पकड़ कर नहीं रख सकता। आपको सही कारणों से खेलना होता है और लगभग हर खेल को ऐसे खेलना होता है जैसे कि यह आपका आखिरी हो और बस इसके बारे में खुश रहें।

खेल आगे बढ़ने वाला है। मैं हमेशा के लिए खेलने नहीं जा रहा हूं, मैं एक खुशहाल जगह पर हूं और अपने समय का आनंद ले रहा हूं।”

विराट कोहली ने इन्हें दिया पूरा श्रेय: विराट कोहली ने कहा, “मेरे लिए भाग्य महत्वपूर्ण है, यह एक बड़ी भूमिका निभाता है और आप इसके लिए बस भगवान का शुक्रिया अदा कर सकते हैं कि इस तरह का जीवनदान मिला। जब भाग्य अपने साथ नहीं होता है तो उस दौरान हम निराश हो जाते हैं, लेकिन यह भी याद रखना अहम है, जहां मैं 50 के करीब आउट हो सकता था।”

पहले वनडे में जरा शानदार शतक: भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी विराट कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे मुकाबले में 87 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके और एक छक्का लगाकर 129 से अधिक के स्ट्राइक रेट से 113 रनों की बेहतरीन पारी खेली है। विराट कोहली के वनडे कैरियर का यह 45 वां शतक है।

गौरतलब है कि विराट कोहली की शतकीय पारी की बदौलत भारतीय टीम इस मुकाबले में जीत हासिल करने में कामयाब रही है। ऐसे में अब भारत तीन वनडे मुकाबलों की सीरीज में 1-0 से आगे हो गया है।

विराट कोहली के अलावा इस मुकाबले में भारत के लिए कप्तान रोहित शर्मा ने 67 गेंदों पर 83 रनों की धुआंधार पारी खेली थी। जबकि शुभ्मन गिल ने भी 70 रनों का बेहतरीन योगदान दिया था।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *