IND vs SL: श्रीलंका से 2 आसान कैच ड्रॉप होने पर बोले विराट कोहली, अपने 73वां शतक पर इन्हें दिया श्रेय, कहा दिल जीतने वाली बात

IND vs SL: श्रीलंका से 2 आसान कैच ड्रॉप होने पर बोले विराट कोहली, अपने 73वां शतक पर इन्हें दिया श्रेय, कहा दिल जीतने वाली बात

भारत और श्रीलंका (IND vs SL) के बीच खेले जा रहे इस मुकाबले में टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने दमदार प्रदर्शन किया है। सलामी बल्लेबाजी के लिए उतरे रोहित शर्मा (83) और शुभमन गिल (73) ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई थी। वहीं, तीसरे नंबर पर उतरे विराट कोहली ने 113 रनों की विस्फोटक पारी खेलकर टीम का स्कोर 350 के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई है .

विराट कोहली ने ठोका शानदार शतक: टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को शुरुआत अच्छी मिल गयी. गिल और रोहित की शानदार बल्लेबाजी देखें को मिली. लेकिन मैच में किंग कोहली का अलग अंदाज ही देखने को मिला. जहाँ आज बल्ले से जमकर रन निकले वही वह किस्मत के धनी भी साबित हुए. दरअसल उनके शतक के पीछे 2 जीवन दान भी रहा.

पहली बार जब विकेट कीपर ने आसान सा कैच छोड़ा तो वह 52 रन पर खेल रहे थे. वही दूसरी बार खुद कप्तान दसून शानाका ने कैच छोड़ा तो वह 81 रन पर थे.ऐसे माँ अब उनकोई कौन रोक सकता था और उन्होंने वनडे अपना 45वां शतक ठोका.

शतक के बाद बोले विराट कोहली: शतक के बाद विराट कोहली ने बात करते हुए कहा कि

मुझे थोड़ा ब्रेक मिला है, और इस खेल में कुछ अभ्यास सत्र आ रहे हैं, इसलिए मैं उस बांग्लादेश दौरे के बाद तरोताजा था। मैं होम सीजन शुरू होने को लेकर उत्साहित था। सलामी बल्लेबाजों ने मुझे खेल में उतरने दिया और मैंने अपने स्ट्राइक रेट को नियंत्रण में रखने की कोशिश की। मैं खुश था कि मैं गति बनाए रखने में सक्षम था और हम 370 के साथ समाप्त हुए।

विराट कोहली ने कैच ड्रॉप होने पर दिया रिएक्शन: मैं किसी भी दिन उन (गिराए गए अवसरों) को लूंगा। भाग्य एक बड़ी भूमिका निभाता है, आपको ऐसी शामों पर भगवान का शुक्रिया अदा करना चाहिए। ये शामें महत्वपूर्ण हैं, इसके बारे में बहुत जागरूक हैं। मैं शुक्रगुजार हूं कि मैंने उस किस्मत का भरपूर फायदा उठाया जो मुझे मिली।

33 की उम्र में फिटनेश पर बोले विराट कोहली: मैंने टीम को 350 के बजाय 20 रन अतिरिक्त दिलाने में मदद की। यह वही होने जा रहा है। इसका पीछा करने के लिए किसी को 150 या 140 रन बनाने होंगे। लेकिन यह हमारे गेंदबाजों को ओस के साथ गेंदबाजी करने का मौका भी देता है। मैं इस बात से काफी वाकिफ हूं कि मैं क्या खाता हूं, इस उम्र में डाइट सबसे महत्वपूर्ण चीज है। यह मुझे प्रमुख आकार में रखता है। इससे मुझे टीम के लिए अपना 100 प्रतिशत देने में मदद मिलती है।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *